Miswak Ki Fazilat | Benefits of Miswak -->

Miswak Ki Fazilat | Benefits of Miswak

بِسْــــــمِ اللّٰهِ الرَّحْمٰنِ الرَّحِىْمِ
اَلصَّــلٰوةُ وَالسَّلَامُ عَلَيْكَ يَا رَسُوْلَ اللّٰه ﷺ

मिस्वाक की फ़ज़ीलत

benefits of miswak, how to use miswak, miswak karne ka sunnat tarika, miswak karne ka tarika, miswak ke faide, miswak ki fazilat, muhammad, quran aur hadees, sunnah, sunnat, miswak ke fawaid in urdu,
फरमाने मुस्तफा صلى الله عليه وسلم : मिस्वाक में मुंह की पाकीज़गी और अल्लाह की ख़ुशनूदी का सबब है।
[سنن النسائي]

शरीअत में मिस्वाक से मुराद वो लकड़ी है जिस से दांत साफ किये जाएं। सुन्नत ये है की ये किसी फूल या फलदार दरख्त की न हो कड़वे दरख्त की हो। मोटाई छोटी ऊँगली के बराबर हो, लंबाई बालिश्त से ज़्यादा न हो। दांतो की चौड़ाई में की जाए न की लंबाई में। बे दांत वाले मसूढ़ों पर ऊँगली फेर लिया करे।

मिस्वाक इतने मक़ाम पर सुन्नत है :
वुज़ू में, क़ुरआन पढ़ते वक़्त, दांत पिले होने पर, भूक या देर तक ख़ामोशी या बे ख्वाबी की वजह से मुंह से बदबू आने पर।
[मीरआतुल मनाजिह्, 1/275]
[40 फरमाने मुस्तफा, 62]

Related Post: